अब किसानों की मदद सरकार इस तरह से करेगी, परिवहन में भी होगा लाभ, जानिए कैसे!

उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कृषि उड़ान योजना 2.0 शुरू की है। इससे किसानों को सीधा फायदा होगा। किसानों को अपने उत्पाद को बेचने के लिए एक जगह से दूसरी जगह ले जाना पड़ता है। ऐसे में उन्हें कई प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। कई बार तो उनकी फसल बाजार तक पहुंचते पहुंचते खराब हो जाती है। जिससे किसानों की मेहनत भी बेकार हो जाती है। किसानों को इस नुकसान से बचाने के लिए और फसलों को सही समय पर बाजार पहुंचाने के लिए प्रधानमंत्री कृषि उड़ान योजना की शुरुआत की।

इसकी घोषणा वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने पिछले साल की थी। 2021 में यह योजना शुरु हो गयी। योजना को शुरू करने के लिए नेशनल रुट , इंटरनेशनल रुट और नागरिक उड्डन मंत्रालय का सहयोग लिया जाता है। इससे किसानों को कृषि उत्पादनों के लिए परिवहन में सहायता मिल रही है।

कृषि उड़ान 2.0 योजना से इस तरह फायदा मिलेगा – किसानों को फायदा
कृषि उड़ान योजना 2021 की मदद से किसान मछली के उत्पाद दूध और डेयरी उत्पाद और मांस जैसे उत्पाद को जल्द से जल्द उनके बाजार तक पहुंचा सकते हैं। क्योंकि हवाई माध्यम से सबसे तेज यह कार्य हो सकता है। इसलिए सरकार ने इसकी मदद से किसानों को लाभ पहुंचाने की सोची है।

Also Read: पशु किसान क्रेडिट कार्ड योजना क्या है और इसका लाभ कैसे उठा सकते हैं

कृषि उड़ान योजना के तहत सरकार से एयरलाइनों को भी प्रोत्साहन देगी। देश के विभिन्न हिस्सों में कृषि उत्पादों के परिवहन के लिए हवाई अड्डा का इस्तेमाल किया जाएगा। योजना के तहत उड़ानों में कम से कम आधी सीटें सब्सिडी वाले किराए पर दी जाएगी।

Exit mobile version